पटवारी भर्ती, आज फिर 4000 से अधिक परीक्षार्थी परीक्षा से वंचित    |    पटवारी भर्ती, TCS की व्यवस्था पर उठे सवाल     |    'दीनदयाल रसोई योजना' आम ग़रीबजनों के लिए वरदान साबित    |    पटवारी भर्ती परीक्षा 9 दिसम्बर से कलेक्टर बनाए गए समन्वयक    |    कार को वाय वाय, साईकिल से दफतर जाया करेंगे कलेक्टर     |     पटवारी परीक्षा कार्यक्रम में कोई परिवर्तन नहीं हुआ है     |    निकलने वाली हैं बहुत जल्द 2300 असिस्टेंट प्रोफेसर की भर्ती    |    पटवारी आवेदन की तारीख बड़ी अब 15 तक कर सकेंगे आवेदन    |    चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी संवर्ग का वेतनमान अब 5200-20200-1700 होगा, आदेश जारी    |    लिपिक वर्गीय कर्मचारियों की बल्ले बल्ले, पदनाम परिवर्तित, ग्रेड पे बढ़ा    |    

निकलने वाली हैं बहुत जल्द 2300 असिस्टेंट प्रोफेसर की भर्ती

PUBLISHED : Nov 23 , 6:44 PM

 

 
 
भोपाल. डिजिटल इंडिया के युग में यह बात आश्चर्यजनक है कि शासकीय कॉलेजों में कम्प्यूटर विषय पढ़ाने के लिये वर्तमान में मध्यप्रदेश में 51 जिलों में महज 11 पद ही स्वीकृत हैं. यह जानकारी

प्रदेश के उच्च शिक्षा मंत्री जयभान सिंह पवैया ने जानकारी देते हुए बताया कि हम यह समस्या दूर करने के प्रयास कर रहे है. उन्होंने बताया प्रदेश में बहुत जल्द 2300 असिस्टेंट प्रोफेसर की भर्ती के लिए पीएससी के माध्यम से जगह निकलने वाली है. 


उन्होंने बताया कि सरकारी कॉलेजों में रिक्त पदों पर भर्ती के लिए पीएससी के पास प्रस्ताव भेज दिया गया है. 15 दिन के अंदर विज्ञापन जारी हो जाएगा और 3 माह में भर्ती प्रक्रिया पूर्ण कर ली जाएगी. अगले सत्र से नवनियुक्त असिस्टेंट प्रोफेसर कॉलेजों में पढ़ाई कराते मिलेंगे. 

उन्होंने कहा कि जरूरत के हिसाब से नए पद स्वीकृत कराने के प्रयास भी किए जा रहे हैं. इसी के साथ अतिथि विद्वानों की भर्ती भी की जायेगी. वर्तमान में अतिथि विद्वानों की भर्ती का मामला वित्त विभाग में रुका हुआ है, वहां से स्वीकृत होते ही इस पर भी फैसला हो जाएगा.

उन्होंने कहा कि करीब छह-सात विषयों में सहायक प्राध्यापक की भर्ती के लिये यूजीसी के पास प्रस्ताव भेजा है. कम्यूटर शिक्षक के नए पद स्वीकृत करने के बारे में जल्द ही निर्णय लिया जाएगा. कॉलेजों में स्पोर्ट्स टीचर के पदों पर भी भर्ती की जाएगी.