सेवानिवृत्ति पर भावभीनी विदाई    |     पटवारी भर्ती, आज फिर 4000 से अधिक परीक्षार्थी परीक्षा से वंचित    |    पटवारी भर्ती, TCS की व्यवस्था पर उठे सवाल     |    'दीनदयाल रसोई योजना' आम ग़रीबजनों के लिए वरदान साबित    |    पटवारी भर्ती परीक्षा 9 दिसम्बर से कलेक्टर बनाए गए समन्वयक    |    कार को वाय वाय, साईकिल से दफतर जाया करेंगे कलेक्टर     |     पटवारी परीक्षा कार्यक्रम में कोई परिवर्तन नहीं हुआ है     |    निकलने वाली हैं बहुत जल्द 2300 असिस्टेंट प्रोफेसर की भर्ती    |    पटवारी आवेदन की तारीख बड़ी अब 15 तक कर सकेंगे आवेदन    |    चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी संवर्ग का वेतनमान अब 5200-20200-1700 होगा, आदेश जारी    |    

पटवारी भर्ती, आज फिर 4000 से अधिक परीक्षार्थी परीक्षा से वंचित

PUBLISHED : Dec 11 , 9:21 AM

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 





 
 
 
 
पटवारी भर्ती, आज फिर 4000 से
 
 
अधिक परीक्षार्थी परीक्षा से वंचित

 

भोपाल. पटवारी भर्ती परीक्षा के आज दुसरे दिन भी भारी गड़बड़ी सामने आई. आधार प्रमाणीकरण और पंजीयन न हो पाने के कारण आज भी केवल भोपाल में 4000 से अधिक परीक्षार्थी परीक्षा से वंचित रह गए. पहले दिन से ही यह गड़बड़ी हो रही है. 

इस गड़बड़ी को लेकर मुख्यमंत्री शिवराज जी ने रोष व्यक्त किया और तकनीकी स्शिक्षा मंत्री दीपक जोशी को तलब कर आ रही दिक्कतों पर बात की. इसके बाद उन्होंने वंचित रह गए परीक्षार्थियों के लिए पुनः नई तिथि 29 दिसंबर को परीक्षा आयोजित किये जाने के लिए घोषणा की. 

गड़बड़ी को लेकर कल दुसरे दिन भी परीक्षार्थियों ने हंगामा किया. सेंटरों पर पत्थर फेंके और व्यापम मुर्दावाद के नारे लगाए. कल गड़बड़ी सामने आने के बाद तकनीकी शिक्षा मंत्री दीपक जोशी ने कहा था कि TCS पर कार्यवाही करेंगे, लेकिन जैसा कि हमने बताया था कि TCS पर कोई भी कार्यवाही की जाना आसान नहीं होगा, PEB के संचालक चन्द्रमोहन ठाकुर ने कहा है कि तकनीकी खराबी के लिए किसी एजेंसी पर कार्यवाही नहीं की जा सकती.