कैरियर गाइडेंस कार्यक्रम के तहत प्रशासनिक अधिकारियों ने दिया युवाओं को मार्गदर्शन     |    हरित क्रांति की मसीहा, भोपाल कमिश्नर कल्पना कल्पना श्रीवास्तव "दीदी"    |    दलहनी फसलों को बढ़ावा देने कृषि अधिकारियों को कलेक्टर श्री यादव ने दिए निर्देश    |    पुलिस का ये चेहरा बहुत ही अच्छा है    |    कलेक्टर के प्रयास से मानसिक विक्षिप्त महिला को मिला परिवार, बेटे को 2 साल बाद मिली मां    |    कलेक्टर ने हाथ मिलाकर शुभकामनायें दीं फिर रवाना किया    |    सब जीते पर दशरथ माँझी हारे    |    पटवारी परीक्षा में फेल होने पर भी दी जा सकेगी पटवारी पद पर नियुक्ति    |    छोटी-छोटी समस्याओं के लिए लोगों को भोपाल न आना पड़े    |    सरकार जल्दी ही एक हल्के पर एक पटवारी करेगी    |    

PAJERO कहाँ से आई?

PUBLISHED : Sep 05 , 7:20 PM

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

PAJERO कहाँ से आई?

 

 

फिर कोई नहीं पूछता 
 
 
- राम नरेन्द्र यादव, पटवारी जी जबलपुर    
 

ढ़-लिख कर अफसर और कर्मचारी बनो और गंवारों की गाली खाओ, मेरे प्रदेश को ये क्या हो गया। कैसे, इस प्रदेश में युवा अधिकारी/कर्मचारी बने? इसलिए आज सभी राजनीति में प्रवेश कर रहे हैं। चाहे वो बाबा हो या केजरीवाल जैसे IRS, IAS, IFS, सेना के अधिकारी और भी सभी विभाग के सम्पन्न लोग राजनीति में आ रहे हैं। क्योंकि यहाँ आने के बाद कोई कुछ भी करे जल्दी प्रकरण नहीं बनता। 

... और पद मिलने के बाद दूसरे दिन से ही PAJERO खरीदने पर भी लोकायुक्त नहीं पूछती कि कल तक लूना थी, आज PAJERO कहाँ से आई?
देश में सभी के लिये एक कानून होना चाहिये और सभी के लिये एक सी जांच प्रक्रिया।